कोरोना वायरस कैसे फैलता है, इससे जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

कोरोना वायरस (COVID-19) की शुरुआत 2019 के दिसंबर महीने के अंतिम चरण में चीन के वुहान शहर में हुई थी। आज चीन देश से निकलकर संपूर्ण विश्व भर में अपना प्रकोप फैलाता जा रहा है। इस वायरस का प्रकोप इतना भयानक है , कि इसकी वजह से आज मानव जीवन समेत कई देशों की अर्थव्यवस्था भी संपूर्ण तरीके से बिगड़ती हुई नजर आ रही है।

कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए ‘विश्व स्वास्थ्य संगठन’ ने इसे 11 मार्च 2020 को वैश्विक महामारी के रूप में घोषित किया। अब आज के समय में इसके संक्रमण का खतरा बहुत ही ज्यादा बढ़ चुका है , अब यह बहुत ही विकराल रूप से लोगों को संक्रमित कर रहा है।

इस महामारी को ज्यादा से ज्यादा नियंत्रण में लाने के लिए पूरे विश्व सहित भारत देश में भी लॉकडाउन लगाया गया है। कोरोना वायरस के लक्षण और इससे बचने के तरीके के बारे में सभी स्वास्थ्य संगठन में कुछ गाइडलाइंस जारी की है , जो हम इस लेख के माध्यम से आप सभी आप लोगों के समक्ष साझा करेंगे। तो कृपया करके हमारे इस लेख को अंतिम तक अवश्य पढ़ें।

कोरोना वायरस क्या है और यह किस प्रकार से दिखाई देता है ?

कोरोना वायरस (COVID-19) एक ऐसा वायरस है , जो अपनी संक्रमण से व्यक्तियों में जुखाम से लेकर सांस लेने जैसी गंभीर समस्या को उत्पन्न करता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है , कि यह वायरस मानव के सर के बाल से 900 गुना सूक्ष्म होता है।

इसका आकार एक किसी राजा के क्राउन के आकार का नजर आता है। यह वायरस एक दूसरे के छूने और संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से भी हो जाता है। कोरोना वायरस इतना खतरनाक है , कि यह मानव जीवन को नष्ट करने तक कि अपने अंदर से क्षमता रखता है।

इस वैश्विक महामारी वाले संकट को नियंत्रण में लाने के लिए लोगों को काफी सावधानियां रखनी होती है और प्रत्येक देश भी अपने देशवासियों को सुरक्षित रखने के लिए इससे संबंधित कुछ गाइडलाइंस जारी कर रहे हैं। कोरोना वायरस से बचने के लिए कुछ महत्वपूर्ण गाइडलाइन इस प्रकार दी गई हैं।

कोरोना वायरस का क्या लक्षण होता है ?

कोरोना वायरस के लक्षण के बारे में बात करें तो यह स्वाइन फ्लू के लक्षण के जैसा ही है। इससे संक्रमित व्यक्तियों को नाक बहना , तेज बुखार , जुखाम , सांस लेने में तकलीफ , सिर में तेज दर्द , निमोनिया और गले में खराश जैसी समस्याओं के लक्षण दिखाई देते हैं।

वैसे कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्तियों के अंदर इसका लक्षण जल्दी से दिखाई नहीं देता है। इसके लक्षण को समझने में लगभग 14 दिनों का समय लग जाता है। शुरुआती समय में संक्रमित व्यक्ति को किसी भी प्रकार का लक्षण या समस्या समझ में नहीं आती।

आवश्यक है कि यदि आप कहीं बाहर से आ रहे हैं स्वयं को आप क्वॉरेंटाइन 14 दिनों के लिए कर ले , और इस बीच में अपने परिवार या फिर किसी अन्य व्यक्ति से संपर्क ना करें।

कोरोना वायरस किस प्रकार से फैलता है ?

कोरोना वायरस चार प्रकार के तरीके से फैल सकता है। जो इस प्रकार निम्नलिखित हैं।

1 . आप किसी भी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के पास कितने समय के लिए रहे हैं।

2 . आप कोरोना संक्रमित व्यक्ति के कितने नजदीक थे।

3 .करुणा वायरस संक्रमित व्यक्ति के छींकने और खासनें के दौरान कहीं उसकी छींटे आपके शरीर पर तो नहीं लगी।

4 . आपने घर से बाहर रहने के दौरान या किसी व्यक्ति से मिलने के द्वारा आपने अपने चेहरे को कितनी बार अपने हाथों से छुआ।

कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की पहचान कैसे करें ?

किसी भी ऐसे व्यक्ति को आपको कोरोना संक्रमित व्यक्ति नहीं कह सकते हो हैं , जिसको नॉर्मल सर्दी , जुकाम या खांसी हो। किसी भी कोरोना संक्रमित व्यक्ति की जांच केवल लैब के माध्यम से ही की जा सकती है।

coronavirus covid 19 meaning in hindi

कोरोना वायरस से बचने के लिए किन-किन सावधानियों पर विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए ?

भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय समेत विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस से बचने के लिए कुछ दिशा-निर्देश जारी किए हैं।इन सभी बताए गए दिशा-निर्देशों से आप स्वयं को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचा सकते हैं। कुछ महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश इस प्रकार से निम्नलिखित हैं।

. 60 वर्ष से ऊपर के व्यक्तियों को अपने स्वास्थ्य का विशेष रूप से इन दिनों ध्यान रखना चाहिए।इस उम्र वाले व्यक्तियों को कोरोना संक्रमण के होने का खतरा अधिक रहता है।

. कोरोना वायरस से महिला , पुरुष और वृद्ध या बच्चे भी संक्रमित हो सकते हैं , इसलिए स्वयं की सुरक्षा करिए।

.कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए आपको बार-बार अपने हाथों को साबुन या सेनीटाइजर से धोना चाहिए।

. किसी भी अन्य व्यक्ति को अपने घरों पर इन विषम परिस्थितियों में आमंत्रित ना करें।

.आवश्यक कल की वस्तुओं या किसी अन्य प्रकार की वस्तुओं को किसी बाहर के व्यक्ति से ना मंगाए।

.आवश्यक कार्यों को करने के लिए घर से बाहर निकलने के दौरान मांस का का प्रयोग करें और साथ में सैनिटाइजर भी लेकर जाएं।

. सिर्फ बहुत ही आवश्यक कार्य के लिए ही घर से बाहर निकले।

. किसी भी ऐसे व्यक्तियों से संपर्क में आने से बचें , जिसको सर्दी , खासी ,जुखाम या फिर सांस लेने में तकलीफ हो।

. चिकन , मीट या फिर खाने के अन्य पदार्थों को अच्छे से पकाएं और उनको पहले घर में लाते ही पानी से धोएं।

.भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बिल्कुल भी परहेज करें अन्यथा कोरोना का संक्रमण आपको हो सकता है।

. इन दिनों आपको अपने रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए विशेष रुप से ध्यान देना है , आप इसके लिए योगा व्यायाम भी कर सकते हैं।

. पोषण एवं स्वास्थ्य लाभ दायक वाली वस्तुओं का ही सेवन करें।

. किसी वस्तु को छूने के बाद आप अपने हाथों को सैनिटाइज करना ना मिले।

. मारे देश की सरकार कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए कई दिशा-निर्देश जारी कर रही है और लोगों को और करोना के प्रति जागरूक भी कर रही है इस वजह से आप सभी लोग प्रशासन का सहयोग करें।

निष्कर्ष :-

अभी तक कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए किसी भी वैक्सीन का निजात नहीं हुआ है। इसीलिए यह आवश्यक है कि आप अपने परिवार एवं अपने देश की सुरक्षा के लिए सरकार द्वारा बताए गए सभी दिशानिर्देशों का पालन करें। ओर भी लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक करने के लिए आप हमारे इस लेख को अपने मित्र जन एवं परिजन के साथ अवश्य साझा करें।

लेखक:-
अभिषेक मौर्या