अंतरराष्ट्रीय योग दिवस International Day of Yoga

योग एक ऐसी प्रक्रिया है जिसे हर उम्र का व्यक्ति बहुत आसानी से कर सकता है तथा इसके द्वारा अनेकों असाध्य रोगों से मुक्ति पायी जा सकती है। आजकल किशोर उम्र के बच्चों का मन पढ़ाई-लिखाई में नहीं लगता है और वे कई तरह के तनावों से घिरे रहते हैं। लोग समय से पहले बूढ़े हो रहे है, हर इन्सान किसी न किसी बीमारी से परेशान है। इन सब के लिये योग बहुत जरुरी है। जब तक किसी इंसान का स्वास्थ्य अच्छा नहीं होगा तब तक वो कोई भी कार्य मन लगाकर कैसे कर सकता है? इन सब को ध्यान में रखते हुए और योग को विश्व में बढ़ावा देने के लिये अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) बनाया गया।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को मनाया जाएगा। जिसकी पहल भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 27 सितम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने भाषण में रखकर की। जिसके बाद 21 जून को “अंतरराष्ट्रीय योग दिवस” घोषित किया गया। 11 दिसम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र में 193 सदस्यों द्वारा 21 जून को “अंतरराष्ट्रीय योग दिवस” को मनाने के प्रस्ताव को मंजूरी मिली। प्रधानमंत्री मोदी के इस प्रस्ताव को 90 दिन के अंदर पूर्ण बहुमत से पारित किया गया, जो संयुक्त राष्ट्र संघ में किसी दिवस प्रस्ताव के लिए सबसे कम समय है।

Why is International Yoga Day celebrated in Hindi

World Yoga Day in Hindi | Why is International Yoga Day celebrated?भारत में पहले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मनाने के लिए सरकार तथा अन्य स्वयं-सेवी संगठन खास तैयारियों में लगे हुए हैं, इसे गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की तैयारी की जा रही है। वहीं योग को जन-जन तक पहुंचाने वाले योगगुरु बाबा रामदेव ने भी इसके लिए पूरी तैयारी कर ली है। विश्व योग दिवस को यादगार बनाने और पूरे विश्व को योग के प्रति जागरूक करने के लिए स्वामी रामदेव ने 35 मिनट का विशेष पैकेज तैयार किया है।

भारत में 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस बड़े पैमाने पर मनाया जाएगा जिसकी तैयारियां बड़े जोर-शोर से सरकार कर रही है। योग दिवस का मुख्य समारोह दिल्ली के राजपथ पर होगा जिसमें खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शिरकत करेंगे। प्रधानमंत्री राजपथ पर 16000 लोगों के साथ योग करेंगे। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस समारोह का गणतंत्र दिवस समारोह जैसा कवरेज दूरदर्शन द्वारा किया जायेगा। इसका सीधा प्रसारण किया जायेगा, प्रसारण अंतरराष्ट्रीय मानक का हो यह सुनिश्चित करने के लिए अत्याधुनिक उपकरण का इस्तेमाल किया जायेगा। राजनीतिक लोगों के अलावा योग गुरु बाबा रामदेव और बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन को भी न्योता भेजा गया है। संयुक्त राष्ट्र में भी योग दिवस मनाने के लिए व्यापक तैयारी चल रही है। पहले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज संयुक्त राष्ट्र में आयोजित समारोह की अध्यक्षता करेंगी। टाइम्स स्क्वायर से वैश्विक दर्शकों के लिए इसका प्रसारण होगा।

Benefits of Yoga in Hindi

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मेहनत रंग लाई है। संयुक्त राष्ट्र ने 21 जून को विश्व योग दिवस मनाने का ऐलान किया है। मोदी की अपील पर यूएन ने 21 जून की तारिख को विश्व योग दिवस के नाम से मनाने का फैसला कर लिया है। ये ऐलान भारतीयों के लिए गर्व की बात यह है। योग हजारों साल से भारतीयों की जीवन-शैली का हिस्सा रहा है। ये भारत की धरोहर है। दुनिया के कई हिस्सों में इसका प्रचार-प्रसार हो चुका है, लेकिन यूएन के इस ऐलान के बाद उम्मीद की जा रही है कि अब इसका फैलाव और तेजी से होने की उम्मीद है। आपको बता दें कि 27 सितंबर को पीएम नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र क सामने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत करने की अपील की थी। संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने पहले भाषण में मोदी ने कहा था कि भारत के लिए प्रकृति का सम्मान अध्यात्म का अनिवार्य हिस्सा है। पीएम ने इसे विश्व स्तर पर आने की बात कही थी। पीएम की इस अपील को आखि‍रकार संयुक्त राष्ट्र ने मान ली और 21 जून को विश्व योग दिवस के नाम से घोषित कर दिया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस मौके पर ट्वीट कर अपनी खुशी जाहिर की।