मोटापे का काल है जीरा और निम्बू का ये प्रयोग

Tips for weight loss in hindiदोस्तों मोटापा आजकल एक बहुत बड़ी महामारी की तरह सम्पूर्ण विश्व में फैलता जा रहा है। हर दूसरा व्यक्ति इस बीमारी से जूझ रहा है। इन लोगों को बीमारियां भी अन्य लोगों की तुलना में अधिक होती हैं। बहुत से लोगों को तो घर से बाहर निकलने में शर्म महशूश होती है कि लोग उनके मोटापे का मजाक बनायेंगे। मोटे लोग अपने मन चाहे कपड़े भी नहीं पहन सकते है क्योंकि वे भद्दे न दिखे। ऐसी अनेकों समस्यायें हैं जिन्हें इन लोगों को रोज झेलना पड़ता है।

जो लोग मोटापे से परेशान हैं और मोटापे को दूर करने के लिए अनेक तरह के प्रयोग और पैसे बर्बाद कर के थक चुके हैं तो हम बता दें के ये प्रयोग मोटापे के लिए काल साबित होगा। यह नुस्खा मैंने अपने कुछ दोस्तों को भी बताया था और उनको पॉजिटिव परिणाम मिले हैं। बिलकुल साधारण सा दिखने वाला ये प्रयोग सिर्फ थोड़े से दिनों में अपना रिजल्ट आपको दिखा जायेगा। और बड़ी बात ये है के ये नुस्खा बिलकुल आसान है।

कैसे प्रयोग करें?

रोजाना शाम को एक चम्मच जीरा एक ग्लास साफ़ पीने के पानी में भिगो कर रख दीजिये। सुबह खाली पेट ये जीरा चबा चबा कर खा लीजिये। इसके बाद बचे हुए पानी को चाय की तरह गर्म करें और इसमें आधा निम्बू निचोड़ कर इसमें एक चम्मच शहद मिला कर इस पेय के घूँट घूँट कर चाय की तरह पियें।

जीरा शरीर में हमारे द्वारा ग्रहण की गयी वसा को शरीर में अवशोषित नहीं होने देता। और गर्म पानी में निम्बू शरीर में जमी हुयी चर्बी को काटता है। इस कारण से प्रयोग मोटापे के लिए चमत्कार है।

और ध्यान रखें, इस प्रयोग के करते समय आप नाश्ता ना करें। नहीं तो मनचाहा रिजल्ट नहीं मिलेगा। सुबह ये पीने के बाद सीधे दोपहर का खाना खाएं। और खाने के पहले एक प्लेट सलाद खाएं। और भोजन में हरी सब्जियों का प्रयोग करें। और रात को भी सोने से 2-3 घंटे पहले भोजन कर लें।

दोपहर और रात के भोजन के तुरंत बाद एक गिलास गर्म पानी चाय की तरह आधा नीम्बू निचोड़ कर पीयें। भोजन के साथ ठंडा पानी बिलकुल नहीं पीना।

मैदे से बानी हुयी वस्तुओ से परहेज करें। मीठा और चीनी मोटापे में ज़हर के समान हैं। अनाज भी चोकर वाला (आटे को छानने से जो कचरा निकालते हैं वो चोकर होता है उसको मत निकाले) इस्तेमाल करें। फलों का जूस पीने की बजाय फल खाने चाहिए, इससे फाइबर भी मिल जाता है और जल्दी भूख नहीं लगती।

शीघ्र रिजल्ट पाने वाले व्यक्तियों को इसके साथ साथ में कुछ व्यायाम ज़रूर करना चाहिये। विशेषकर पश्चिमोत्तनासन, कपाल भाति और हो सके तो रनिंग या जॉगिंग ज़रूर करें। आपको एक महीने में ही रिजल्ट मिल जायेगा।

यदि आपको पॉजिटिव रिजल्ट मिलता है तो अपना comment share करना मत भूलें।

Source

loading...

Comments

  1. By Ritesh Kumar

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *