राजीव दीक्षित जी के बारे में जितना भी व्याख्यान किया जाय वो कम होगा। वह हमारे देश के महान रत्न थे। उन्होंने अपना संपूर्ण जीवन स्वदेशी का प्रचार और राष्ट्र की सेवा में समर्पित कर दिया। बचपन से ही उन्हें देश की समस्याओं को जानने की तीव्र इच्छा रहती थी। इसीलिए वह रोज ज्यादा से