मार्टिन लूथर किंग जूनियर के अनमोल वचन

Martin Luther King Jr, Quotes in Hindi
Name : Martin Luther King Jr.
Born : January 15, 1929, Atlanta, Georgia, United States
Spouse : Coretta Scott King (m. 1953–1968)
Assassinated : April 4, 1968, Memphis, Tennessee, United States
Children : Martin Luther King III, Yolanda King, Dexter Scott King, Bernice King
Awards : Nobel Peace Prize, more.
Parents : Alberta Williams King, Martin Luther King, Sr.

—————————————–

मार्टिन लूथर किंग जूनियर के अनमोल वचन

कथन १ : हमारे जीवन का उस दिन अंत होना शुरू हो जाता है, जिस दिन हम उन मुद्दों के बारे में चुप हो जाते हैं जो आम समाज के लिये मायने रखते हैं।
Quote 1 : Our lives begin to end the day we become silent about things that matter.

कथन २ : अंधकार से अंधकार को दूर नहीं किया जा सकता है, केवल प्रकाश से ही ऐसा किया जा सकता है। नफरत से नफरत को नहीं हटाया जा सकता है, केवल प्यार से ही ऐसा किया जा सकता है।
Quote 2 : Darkness cannot drive out darkness, only light can do that. Hate cannot drive out hate; only love can do that.

कथन ३ : मैंने प्रेम को ही अपनाने का निर्णय किया है। घृणा करना तो बेहद कष्टदायक काम है।
Quote 3 : I have decided to stick with love. Hate is too great a burden to bear.

कथन ४ : सही काम को करने के लिए, समय हर क्षण सही होता है।
Quote 4 : The time is always right to do what is right.

कथन ५ : हमें सिमित निराशा को स्वीकार करना चाहिए, लेकिन असिमित आशा को कभी नहीं भूलना चाहिए।
Quote 5 : We must accept finite disappointment, but never lose infinite hope.

कथन ६ : दीर्घायु होना नहीं बल्कि जीवन की उत्कृष्टता महत्वपूर्ण होती है।
Quote 6 : The quality, not the longevity of one’s life is what is important.

कथन ७ : हमें भाईयों की तरह मिलकर रहना सीखना पड़ेगा, वरना मूर्खों की तरह लड़कर सभी बर्बाद हो जाएंगे।
Quote 7 : We must learn to live together as brothers or perish together as fools.

कथन ८ : “आँख के बदले आँख” के प्राचीन सिद्धान्त से तो एक दिन सभी अंधे हो जाएंगे।
Quote 8 : The old law about “an eye for an eye” leaves everybody blind.

कथन ९ : व्यक्ति का निर्णायक आंकलन इससे नहीं होता है कि वह सुख व सहूलियत की घड़ी में कहाँ खड़ा है, बल्कि इससे होता कि वह चुनौति व विवाद के समय में कहाँ खड़ा होता है।
Quote 9 : The ultimate measure of a man is not where he stands in moments of comfort and convenience, but where he stands at times of challenge and controversy.

कथन १० :
यदि तुम उड़ नहीं सकते हो, तो दोड़ो.……।
यदि तुम दोड़ नहीं सकते हो, तो चलो.……।
यदि तुम चल नहीं सकते हो, तो रेंगो.……।
लेकिन तुम जैसे भी करो.……।
तुम्हें आगे बढ़ना ही पड़ेगा.……।
Quote 10 :
If you can’t fly, then run…………
if you can’t run, then walk…………
if you can’t walk, then crawl…………
but whatever you do…………
you have to keep moving forward…………

कथन ११ : एक सच्चा लीडर लोगो के विचारों के पीछे नहीं चलता बल्कि वो लोगो के विचारो को बदल देता है।

कथन १२ : किसी भी जगह हो रहा अन्याय हर स्थान पर न्याय के लिए खतरा है।

कथन १३ : यदि तुम उड़ नहीं सकते हो तो दौड़ो, यदि तुम दौड़ नहीं सकते हो तो चलो, यदि तुम चल नहीं सकते हो तो रेंगो। लेकिन, तुम जैसे भी करो, तुम्हे आगे बढ़ना ही होगा।

कथन १४ : प्रेम एकमात्र ऐसी शक्ति है, जो शत्रु को मित्र में बदल सकती है।

कथन १५ : सबसे बड़ी त्रासदी बुरे व्यक्तियों का अत्याचार और दमन नहीं बल्कि इस पर अच्छे लोगो का मौन रहना है।

कथन १६ : सच्ची शिक्षा का लक्ष्य चरित्र के साथ बुद्धिमता का विकास करना है। पूरी एकाग्रता से विचार करने की क्षमता देना ही शिक्षा का कार्य है।

कथन १७ : आपके ऊपर तब तक कोई सवार नहीं हो सकता जब तक की आपकी कमर झुकी नहीं हो, इसीलिए अपनी कमर सीधी करे और लक्ष्य के किए काम में जुट जाए।

कथन १८ : हमारी वैज्ञानिक शक्ति ने हमारी आध्यात्मिक शक्ति को कुचल दिया। हमारे पास गाइडेड मिसाइल तो है, लेकिन लोग मिस गाइडेड है।

कथन १९ : प्रत्येक व्यक्ति को यह फैसला कर लेना चाहिए कि वह रचनात्मक परोपकारिता के आलोक में चलेगा या विनाशकारी खुदगर्जी के अंधेरे मे।

कथन २० : मानव की प्रगति कभी अपने आप नहीं होती। न्याय के लक्ष्य की ओर बढ़ाए गए हर कदम पर बलिदान, संघर्ष और तकलीफे होती है। लक्ष्य के लिए समर्पित व्यक्तियों का अथक परिश्रम और जूनून होता है।

कथन २१ : दमनकर्ता और अत्याचारी कभी अपनी ख़ुशी से स्वतंत्रता नहीं देंगे। अत्याचार व दमन भुगतने वालो को इसकी मांग करनी होगी, तभी यह मिलेगी।

कथन २२ : व्यक्ति जब तक व्यक्तिगत चिन्ताओ के दायरे से ऊपर उठकर पूरी मानवता की वृहद चिंताओं के बारे में नहीं सोचता तब तक उसने जिंदगी जीना ही शुरू नहीं किया है।

कथन २३ : कानून-व्यवस्था न्याय की स्थापना के लिए होते है और जब वे इसमें नाकाम रहते है तो वे खतरनाक ढंग से बने बांध की तरह हो जाते है, जो सामाजिक प्रगति के प्रवाह को थाम लेते हैं।

कथन २४ : मेरा एक सपना है की मेरे चारो बच्चे एक दिन ऐसे राष्ट्र में रहेंगे जहां उन्हें कोई भी उनकी स्किन के रंग से नहीं पहचानेगा बल्कि उनके चरित्र के गुणों से पहचानेगा।

कथन २५ : व्यक्ति का निर्णायक आंकलन इससे नहीं होता है कि वह सुख व सहूलियत की घड़ी में कहाँ खड़ा है, बल्कि इससे होता कि वह चुनौति व विवाद के समय में कहाँ खड़ा होता है।

कथन २६ : अंत में, दुशमनों के कहे शब्द नहीं दोस्तों की चुप्पी याद रहती है।

कथन २७ : वास्तविक नेता सर्वसम्मति की तलाश नहीं करता, उसे निर्मित करता है।

loading...

Comments

  1. By Navdeep

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *