हास्य व्यंग – सोशल मीडिया के खिलाड़ी और महानतम कौन?

Satire on Social Media in Hindi

Social Media, नाम तो सुना ही होगा आपने, हाँ जी मैं Facebook वाले बाबा और Twitter वाली चिड़िया की बात कर रहा हूँ। अच्छा आपका Account ही नहीं है इनपर फिर तो आप पिछड़ गये लगता है नये ज़माने के नहीं हैं। व्यक्ति की महानता पहले उसके ‘कृत्य’ और ‘शिक्षा’ के माध्यम से जानी जाती थी, लेकिन आज उसकी महानता में Social Media भी जुड़ गया है … कैसे ? नहीं समझे आप। अरे भाई Facebook और Twitter पे अगर आपके Followers नहीं हैं तो फिर आप महान काहे के ? पढ़ा लिखा तो हर कोई है, पर बिना सोशल मीडिया प्रोफाइल के भला आपकी क्या Value. अब देख लीजिये नेता, मंत्री, खिलाड़ी, फ़िल्मी कलाकार ये सब Facebook पर आने के बाद ही तो महान बनें हैं तो भला आप काहे पीछे हैं।

घर बैठे महान बनने का अवसर अब इससे अच्छा नहीं मिलेगा, हाँ महानता किस रूप में चाहिए ये पहले आपको तय करना है फिर उसके अनुरूप ही आपका Facebook और Twitter और Youtube चलेगा। बात नहीं समझे आप – देखिये ऊट-पटांग की बात करेंगे तो जल्दी महान बनेंगे और यदि लगे इतिहास छांटने ज्ञान बांटने तब तो खेला बिगड़ जायेगा क्योंकि ये जो Facebook, Twitter है ना ई शरीफ आदमी के लिये नहीं है। इहां वही हीरो बनेगा जो ज्यादा बकवास करेगा; अरे घबराइये नहीं बकवास ठोकने के लिए दू चार ठो चेला दे देंगे वो आपके फ़ेसबुकिया खाते में रोज बकवासबाजी करते रहेंगे संसार का जितना बुरबक है वो आपको शेयर करता रहेगा बस कुछे दिन में आप महान की श्रेणी में आ जाइयेगा। हुम्म्म ….. लगता है बूझ गए आप; तो चलिए बात करते हैं, ई काम के पैसा केतना लगेगा उसके बारे में। देखिये like अउर follower दूनों का अलग-अलग हिसाब बनता है चाहे उ फेसबुक होखे आ चाहे ट्वीटरवा दुनो का अलग कॉन्सेप्ट है। वैसे सबसे त हम पैसा ज्यादा लेते हैं पर आप जान पहचान वाले से आये हैं तो थोड़ा मोड़ा ऊपर निचे चलेगा बाकि सब हमारा सेल्स डिपार्टमेंट है बता देगा।

कुछ दिन पहले हम एक फ़िल्मी कलाकार का काम उठाये थे उनको कउनो जानता नहीं था एक दिन उनसे भेट हुआ बम्बइये में। लगे कहने कि कुछ ऐसा उपाय बताइये की लोग हमको भी जानें, एक उ दिन है अऊर एक आज – जाके देखिये उनका Facebook और Twitter खाता (Account) तमाम लोगों से भरल है। जानते हैं कईसे हुआ, एक दिन उनका Facebook और Twitter वाला खाता में हमलोग एक ‘बवाल’ मैसेज डाल दिए कुछै देर के बाद उ गारी…… उ गारी पूरा देश के बेकार बैठे निठल्ला लोग गरियानें लगा। हम का बताएं उनको इतना गारी पड़ा की आज ऊ महानता के शिखर पर जा बैठे हैं। त फ़िल्मी लोग अउर आपन नेता लोग अइसे महान थोड़े बनता है जब तक ‘बवाल-काट’ काम नहीं करेंगे, गारी नहीं सुनेंगे तब तक महान नहीं बनेंगे बाकी थोड़ा-मोड़ा काम टी वी मीडिया वाला भी करता है सब। ई त बात हुआ कि आपको महान कैसे बनना है – पर हम लोगन का अउर काम भी है जैसे जनमानस को भड़काना, दुनिया को गलत बात बोल के चूतिया बनाना, Election के Time पर त पूछिये ही मत ज्यादा पैसा मिला तो ‘लाठी-डंडा’ भी करवा देते हैं। काहें से कि जब तक समाज में लोग लड़ेगा नहीं तब तक वोट कइसे मिलेगा ?

आ जो फ़िल्मी लोग है ना आपन, ई जेतना पर्दा पे नौटंकी करता है, सब उतना ही Social Media और जमीन पे। मीडिया के सामने – इनका काम है, बढ़िया सूट-बूट पहिन लो, थोड़ा अंग्रेजी बांचो और गाल पे क्रीम पाउडर लगा के चमका लो (बे पाउडर नहीं लगाएंगे तो उमरिया नहीं दिख जायेगा लोगवा को) … सुनिये पूरा बात बीचे में टोक देते हैं। जैसे कौनो कैमरा वाला पूछा एकदम सरीफ बन के “बवाल काण्ड” बात बोल देते हैं। ओह के बाद टी वी मीडिया वाला उ बात के घूम-घूम के पूरा मौसम रंगीन बना देता है। आ जो Public है न उ फिर Social Media पे जा के ई फ़िल्मी वाला के बल-भर गरियाती है फिर धीरे-धीरे एक पच्छ और विपछ तैयार हो जाता है। फिर शुरू होता है बोलबाजी, क्रिया-प्रतिक्रिया, खीच – तान, नोचा – नोचउअल, कटा – काटी, मारा-मारी, गारी-गलौच। ई ड्रामा करने से उ जो फ़िल्मी कलाकार है न एक हप्ता के लिए टॉप पे रहता है। ई नौटंकी करे से उनको follower भी मिल जाता है और प्रसिद्धि भी बाकी गाली से उनको कोई फर्क नहीं पड़ता काहे से की फिलिम (Picture) में त उ सब रोजे गली वाला डायलॉग सुनता रहता है।

का समझे ! है ना कमाल का Facebook और ट्विटर – महानता का 100 प्रतिशत गारंटी जल्दी जुड़िये सोशल मीडिया से और बढ़ाइये अपना follower फिर काटते रहिये बवाल दुनिया आपको रोल मॉडल मानेगी।

नोट: यह एक Funny व्यंग है, किसी व्यक्ति विशेष, समुदाय या अन्य से इसका कोई लेना देना नहीं है। धन्यवाद !

loading...

Comments

  1. By Mohit Kumar

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *